LPG Subsidy : मोदी सरकार ने सस्ता कर दिया एलपीजी सिलेंडर, अब महज इतने में घर लाए lpg Cylinder

LPG Subsidy : हेलो दोस्तो आपको बता दे की मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों और आम उपभोक्ताओं के लिए एलपीजी रिफिलिंग सस्ती कर दी। केंद्र सरकार के एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी राशि बढ़ाने के फैसले के बाद देश में एलपीजी सिलेंडर की मांग में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है।

बता दे की 29 अगस्त 2023 को मोदी कैबिनेट ने आम लोगों और प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए एलपीजी सिलेंडर 200 रुपये सस्ता कर दिया. सरकार के इस फैसले के बाद सितंबर महीने में रोजाना एलपीजी सिलेंडर रिफिल कराने की औसत संख्या 11 लाख के पार पहुंच गई.

LPG Subsidy Latest Update

अक्टूबर 2023 में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए रसोई गैस 100 रुपये तक सस्ती हुई थी. इसके बाद अक्टूबर में एलपीजी गैस की मांग बढ़ने के बाद रोजाना 10.3 सिलेंडर रिफिल कराए गए। और माना जा रहा है कि एलपीजी सिलेंडर रिफिल की संख्या में और बढ़ोतरी हो सकती है।

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले केंद्र की मोदी सरकार ने एलपीजी सिलेंडर के दाम घटा दिए हैं. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को एलपीजी सिलेंडर 500 रुपये सस्ता यानी 600 रुपये मिलेगा। बाकी एलपीजी ग्राहकों को अपने एलपीजी सिलेंडर को रिफिल कराने के लिए 900 रुपये चुकाने होंगे, जबकि पहले उन्हें 1,100 रुपये देने पड़ते थे।

lpg subsidy latest news

सिर्फ केंद्र सरकार ही नहीं बल्कि कई राज्यों ने भी अपने यहां एलपीजी सिलेंडर सस्ता कर दिया है. राजस्थान में कांग्रेस सरकार पीएम उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को सिर्फ 500 रुपये में सिलेंडर उपलब्ध करा रही है। सरकार ने घोषणा की है कि वह दिवाली के मौके पर प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को मुफ्त सिलेंडर देगी। मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने भी 450 रुपये में सिलेंडर देने का वादा किया था. कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणापत्र में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में 500 रुपये में एलपीजी सिलेंडर उपलब्ध कराने का वादा किया था.

1 मई 2016 को, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने धुआं निवारण के लिए मुफ्त एलपीजी कनेक्शन प्रदान करने के लिए प्रधान मंत्री उज्ज्वला योजना का उद्घाटन किया। इस योजना के कुल 9.59 मिलियन से अधिक सक्रिय लाभार्थी हैं। योजना शुरू होने के सात साल से अधिक समय बाद एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में भारी बढ़ोतरी के कारण इससे लाभान्वित होने वाले लोगों की संख्या में कमी आई थी।

lpg subsidy Rate Today

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों ने रसोई गैस महंगी होने के कारण अपना सिलेंडर दोबारा नहीं भरवाया। सरकार ने 2022 में संसद को बताया कि पिछले पांच साल में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के 4.13 करोड़ लाभार्थियों ने एक भी एलपीजी सिलेंडर दोबारा नहीं भरवाया है. प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के कुल 7.67 लाख लाभार्थी ऐसे हैं जिन्होंने केवल एक एलपीजी सिलेंडर रिफिल कराया था।

सरकार को महंगी रसोई गैस के कारण चुनाव में नुकसान की भी आशंका है. इसीलिए मोदी सरकार ने ऐलान किया है कि वह एलपीजी पर भारी सब्सिडी देगी. अब उम्मीद की जा रही है कि सरकार के इस फैसले से एलपीजी सिलेंडर की खपत में और बढ़ोतरी हो सकती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top